इन 7 तरीकों से बढ़ाएं अपने बच्चों की इम्युनिटी, कोरोनावायरस से भी होगा बचाव

कोरोना वायरस की दूसरी लहर से हमारे पूरे देश में एक बार फिर से हड़कम फैला हुआ है इस बार सबसे ज्यादा डर युवाओं और बच्चों के लिए है क्योंकि उनके लिए कोई वैक्सीन तैयार नहीं हुई है। इस समय पूरी दुनिया कोरोना वायरस की मार झेल रही है लेकिन दिल्ली जैसे मेट्रो शहरों में रह रहे लोग वायु प्रदूषण से भी परेशान हैं। हम सभी जानते हैं कि वायु प्रदूषण की वजह से हवा कितनी खराब हो चुकी है ।और इस हवा में सांस लेने से वयस्कों और बुजुर्गों की सेहत तो बिगड़ ही रही है  छोटे बच्चों काफी नाजुक होते है इनकी इम्यूनिटी भी काम होती है ।

कोरोना बचाओ के 7 मंत्र :

  1. स्तनपान

2. सोशल डिस्टेंसिंग

3. मास्क

4. हाथ धोते रहना

5. इम्युनिटी बढ़ाना

6. धूप जरूर लें

7. मालिश  ( एक दिन में 2 बार मालिस  )

बच्चों में लक्षण

अगर बच्चे को ज्यादा दिनों में बुखार हो

शरीर और पैर में लाल चकत्ते पड़ जाएं।

होंठ लाल हो जाएं या फट जाएं।

 चेहरा नीला पड़ जाए।

उल्टी या दस्त हो ।

बच्चे के हाथ-पैर में सूजन आ जाए

अपनाएं बच्चों के लिए ट्रिक्स

बच्चों को दें बैलून फुलाने के लिए.

गुनगुना पानी पीने को दें, इससे संक्रमण का खतरा कम होता है। और बच्चे को आराम मिले गा.

बच्चों को अपने साथ बिठाकर सांस वाली एक्सरसाइज कराएं, इससे बीमारियों की रोकथाम में काफी मदद मिलेगी 

बच्चों को थोड़े खट्टे फल दे खाने के लिए इससे उनकी इम्युनिटी बढ़ेगी।

बच्चों को हल्दी वाला दूध देना चाहिए इस ऐसे टाइम मैं हल्दी वाले दूध मैं बैक्टीरियल और वायरल इंफेक्शन से लड़ने में मदद मिलेगी। 

बच्चों को बार-बार हाथ धोने के लिए कहे।

बच्चों को आराम और सावधानी समझाएं, डराएं नहीं आप बच्चों को कोरोना के संक्रमण से सावधान करें। उन्हें डराएं नहीं, ऐसा करने से बच्चों की मनोदशा पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है। 

आपको कोरोना वायरस के साथ के काफी जंग लड़ने में मदद मिलेगी।

नन्हे छोटे बच्चों में कोरोना वायरस कैसे पहचानें।

बच्चा अगर सुस्त हो।

अगर आप का बच्चा चिड़चिड़ा हो गया हो । पसलियां ज्यादा चल रही हों। पहले की अपेक्षा ज्यादा सो रहा हो।

पॉजिटिव हो तो क्या करें

पहले हमे डॉक्टर के पास जाना चाहिए। और  डॉक्टर की बताई दवाई।पर ध्यान देना चाहिए।और हूं कुछ अपने घरेलू उपचार करना चाहिए।

आप अपने बच्चों को मास्क लगाने को दे जिसे उन्हे कोई इंफेक्शन न हो हाथ हमेशा साफ करते रहें। बच्चे को छूने से पहले खुद का हाथ भी साफ करें।

आप को अपनी बच्चों को खाने में क्या देना चाहिए हमे काफी सावधानियां काफी बरतनी चाहिए।

इम्युनिटी बढ़ाने वाले फल दें। इम्युनिटी बढ़ाने वाली सब्जियां दें। च्यवनप्राश और खट्टे फल खाने को दें।.गर्म पानी पीने को दे।बाजार मैं तुलसी का आर्ग मिलता हैं बच्चों को पानी मैं मिला के रोज दे।.

अदकर

अगर आप का बच्चा अदरक खा लेता है तो उसके लिए अदरक बहुत ही ज्यादा अच्छी है आप खाने में अदरक के बारीक टुकड़े काटकर डालें। वायु प्रदूषण से बचने के लिए घर में एयर प्यूरीफायर भी लगा सकते हैं। इससे घर की हवा शुद्ध होती है ।और आप का बच्चा अच्छे से शुद्ध और साफ-साफ ले पाएगा।

हरी सब्जियां

हमे अपने बच्चों को हरी सब्जियों से भरपूर कई तरह के पोषक तत्व आयरन मिलते हैं। बच्चों को दिन में कम से कम दो बार दूध देना चाहिए लेकिन दूध में केसर, तुलसी या कच्ची हल्दी मिला कर दे। तुलसी और हल्दी इम्यूनिटी को काफी बढ़ाने का काम करती हैं। इसे बच्चा एक्टिव रहेगा। खेलता रहेगा।

च्यवनप्राश

बच्चों को रोज एक चम्मच च्यवनप्राश खिलाएं। च्यवनप्राश मैं कई प्रकार की जड़ी बूटियों से तैयार किया जाता है जो की काफी अच्छा होता है। जो इम्यूनिटी को मजबूत बनाए रखने का काफी काम करती हैं। हरी पत्तेदार सब्जियां खूब आती हैं। इसे बच्चे के आहार में शामिल करें।

ड्राई फ्रूट्स (मेवा)

हमे कुछ ड्राई फ्रूट्स भी खाने चाहिए जैसे बादाम, अखरोट, अंजीर, खुमानी,पिस्ता, काजू और मूंगफली एवं अलसी प्रोटीन,फाइबर,विटामिन काफी प्रोटीन होता हैं इसे बच्चों की इम्यूनिटी काफी अच्छी होती है।एंटीऑक्सीडेंट है और इम्यूनिटी बढ़ाता है ।

दाल 

दालों में प्रोटीन, फाइबर, फोलेट, आयरन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, जिंक और पोटैशियम काफी मात्रा में होता है प्रोटीन पाने का ये सबसे आसान तरीका है। बच्चों को रोज दाल खिलाएं जिसे बच्चों का पेट भी भरा रहे। दाल खाने से बच्चों की इम्युनिटी भी काफी बूस्ट होती है

खुबानी

खुबानी को सूजन-रोधी गुणों के लिए जाना जाता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो कि इम्यूनिटी सिस्टम को मजबूत बनाने और शरीर को बीमारियों से लड़ने में हमारी काफी मदद करता हैं। ये विटामिन ए, विटामिन-सी, पोटैशियम और प्रचुर फाइबर से भरपूर होते। खुबानी बच्चों को काफी पसंद भी होती है। खुबानी एक काफी अच्छा ड्राई फ्रूट है जिससे बच्चों की इम्युनिटी काफी बूस्ट होती है।

धूप जरूर लें

कोरोना संक्रमित बच्चें के साथ साथ अपनी भी व्दिनचर्या सेट करनी चाहिए. सुबह जल्दी उठें और थोड़ा योग कराए बच्चें को कराए योग करने के बाद आप आधा घंटा यानी 30 मिनट तक धूप लें. धूप में बैठने से हमारे शरीर को विटामिन D मिलता है और काफी एनर्जी मिलती है. सुबह की धूप हल्की होती है. आप चाहें तो धूप में हल्की धूप मैं थोड़ा योगा भी कर सकते हैं.इसे आप को काफी एनर्जी मिलेगी।

डाइट पर ध्यान दें-

कोरोना वायरस से ठीक होने के बाद या संक्रमण के दौरान भी सही डाइट बहुत जरूरी है. इस वायरस से रिकवरी के बाद शरीर में बहुत ज्यादा कमजोरी आ रही है. इसलिए बच्चो के खाने का बहुत ख्याल रखना है. सुबह उठ कर भीगे हुए किशमिश,बादाम और अखरोट जरूर खाएं. संक्रण के दौरान या फिर ठीक होने पर बच्चों को हल्का और आसानी से पचने वाला खाना खिलाएं कोशिश करें कि घर का बना खाना ही खिलाएं .आपको अपने बच्चें शरीर को हाइड्रेट रखने के लिए खूब पानी पिलाना चाहिए. इस समय आपको ठंडी और गले में खराश होने वाली चीजों से परहेज करना चाहिए. ज्यादा तेल मसाला या जंक फूड बिल्कुल न खिलाएं बच्चों को. दिन में एक बार नारियल पानी भी पिएं अपने बच्चो को।

बच्चों के साथ ज्यादा से ज्यादा टाइम बताएं ऐसे में इनडोर गेम ही बच्चों को खिलाएं। पैरेंट्स बच्चों के साथ अधिक से अधिक गेम खेले । क्योंकि बच्चों को वैक्सीन भी नहीं लगी है

इन दिनों बच्चे पढ़ाई और इंटरटेनमेंट के कारण अधिक से अधिक समय स्क्रीन के सामने बीता रहे हैं। इस लिए बच्चों के साथ घर मैं ही गेम खेले और फोन की स्क्रीन देख रहा है बच्चा तो इसके साथ ही हर 20 मिनट बाद एक 20 सेकंड का भ्रेक लें। जिसमें आंख बंद कर लें या फिर खिड़की के बाहर देंखे।आंखों मैं आराम मिले गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *